Himachal Pradesh
13th Legislative Assembly ( Vidhan Sabha )
  • हिमाचल प्रदेश विधान सभा सचिवालय में लोक निर्माण विभाग हिमाचल प्रदेश की कार्यशाला एवं प्रशिक्षण आयोजित।

    18/03/2019

        आज दिनांक 18 मार्च, 2019 को हिमाचल प्रदेश विधान सभा सचिवालय में लोक निर्माण विभाग हिमाचल प्रदेश द्वारा ई-विधान तथा ई-निर्वाचन प्रबन्धन पर एक कार्यशाला एवं प्रशिक्षण का आयोजन किया गया। गौरतलब है कि इस कार्यशाला का आयोजन लोक निर्माण विभाग द्वारा विधान सभा सचिवालय से ई-विधान प्रणाली तथा ई-निर्वाचन प्रबन्धन से सम्बन्धित विस्तृत जानकारी तथा इसके उपयोग से कार्य में दक्षता एवं पारदर्शिता लाने के प्रयास को सुनिश्चित करना है। इस अवसर पर कार्यशाला एवं प्रशिक्षण कार्यक्रम में हिमाचल प्रदेश सरकार की अतिरिक्त मुख्य सचिव (लोक निर्माण) श्रीमती मनिषा नन्दा विशेष रूप से उपस्थित थी। उनके अतिरिक्त लोक निर्माण विभाग के प्रमुख अभियन्ता श्री आर0 पी0 वर्मा, प्रमुख अभियन्ता, (परियोजना) श्री आर0 के0 वर्मा, हिमाचल प्रदेश विधान सभा के सचिव, श्री यशपाल शर्मा, हिमाचल प्रदेश विधान सभा के अध्यक्ष के निदेशक सूचना एवं प्रोद्योगिकी श्री धर्मेश शर्मा, मुख्य अभियन्ता शिमला जोन, श्री ललित भूषण, अधीक्षण अभियन्ता वृत सर्कल शिमला -iv श्री सुरेश कपूर, अधीक्षण अभियन्ता सोलन श्री एस0 पी0 जगोता, अधीक्षण अभियन्ता , नाहन, श्री महेश सिंघल , अधीक्षण अभियन्ता प्रधान मंत्री ग्रामीण सड़क योजना श्रीमती अर्चना ठाकुर, शिमला जोन के अधीन आने वाले सभी अधिशाषी अभियन्ता तथा सहायक अभियन्ता लेाक निमाण विभाग हिमाचल प्रदेश विधान सभा डॉ0 रवि कौंडल तथा लोक निर्माण विभाग शिमला जोन के कई अभियन्ता मौजूद थे। विधान सभा सचिवालय में कार्यशाला का आयोजन दो सत्रों में किया गया। पहला सत्र पूर्वाह्न 11 बजे से अपराह्न 1 बजे तक तथा दूसरा सत्र अपराह्न 2 बजे से 4.30 बजे तक आयोजित किया जा रहा है।

          कार्यशाला के दौरान विधान सभा सचिव श्री यशपाल शर्मा ने कहा कि लोक निर्माण विभाग से विधान सभा के लिए सत्र के दौरान लोक निर्माण विभाग से सम्बन्धित पूछे गये प्रश्नों के उत्तर लोक निर्माण विभाग से सम्बन्धित विषयों पर सदन में चर्चा तथा सदन की समितियों द्वारा लोक निर्माण विभाग से मांगे गये उत्तरों को हासिल किया जाता है। उन्होंने कहा कि अब हिमाचल प्रदेश विधान सभा पूर्ण रूप से कागज़ रहित हो गई है इसलिए विभाग विधान सभा को जो भी सूचनाएं प्रदान करें उसे ऑन लाईन ही भेजें ताकि कार्यो में दक्षता व पारदर्शिता लाई जा सके।

          विधान सभा  अध्यक्ष के निदेशक सूचना प्रोद्योगिकी श्री धर्मेश शर्मा ने इस अवसर पर एक वृत चित्र के माध्यम से कार्यशाला में मौजूद लोक निर्माण विभाग के सभी अधिकारियों एवं अभियन्ताओं के ई-विधान प्रणाली तथा ई-निर्वाचन प्रबन्धन की विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने कहा कि ई-निर्वाचन प्रबन्धन के लागू होने से जहां कार्य में दक्षता व पारदर्शिता आयेगी वहीं माननीय विधायक गण अपने निर्वाचन क्षेत्र के लोगों को विकासात्मक कार्यो तथा विधान सभा क्षेत्र के अन्दर हो रही अन्य गतिविधियों की आसानी से जानकारी दे सकेंगे । इसके अतिरिक्त जनता का विधायक व अधिकारियों से सीधा संवाद रहेगा तथा उनके कार्यों की उन्हें मोबाईल ऐप के जरिये सीधी जानकारी दी जा सकेगी। इसके अतिरिक्त माननीय विधायक द्वारा जन समस्याओं से सम्बन्धित अधिकारियों को प्रेषित पत्रों पर हुई विभागीय कार्रवाई की जानकारी भी ऑन लाईन हासिल की जा सकेंगी। इससे कार्य में दक्षता, परदर्शिता तो आयेगी ही बल्कि कार्यों में विलम्ब भी स्वत: दूर किया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि जनता को अधिकारियों के पास ज्यादा जाने की आवश्यकता भी नहीं पडे़गी। उन्होंने कहा कि लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निचे से उपर के स्तर तक विकासात्मक कार्यों तथा जन समस्याओं के लिए ऑन लाईन तरीके से माननीय विधायकों के साथ जुड़ना होगा।

         कार्यशाला की अध्यक्षता करते हुए अतिरिक्त मुख्य सचिव (लोक निर्माण),  श्रीमती मनिषा नन्दा ने कहा कि लोक निर्माण विभाग ई-विधान प्रणाली तथा ई-निर्वाचन प्रबन्धन की प्रशंसा करता है तथा इसे सफल बनाने में विभाग अपना पूरा सहयोग देगा तथा सभी अधिकारी व अभियन्ता मोबाईल ऐप के जरिए माननीय विधायकों को सूचनाएं प्रदान करने के लिए हर स्तर पर सजग व तैनात रहेंगे। श्रीमती नंदा ने कहा कि इससे कार्य में तिव्रता व पारदर्शिता आयेगी तथा अधिकारी अपने कार्य के प्रति सचेत रहेगें।

        मुख्य अभियन्ता शिमला जोन, श्री ललित भूषण ने कार्यशाला में मौजूद विधान सभा अधिकारियों तथा लोक निर्माण विभाग के अभियन्ताओं का धन्यवाद किया।

    (हरदयाल भारद्वाज),
    उप-निदेशक,
    लोक संपर्क एवं प्रोटोकॉल, 
    हि0प्र0 विधान सभा ।